CARONA VIRUS Cricket Entertainment Fashion Football International National आलेख करोना वायरस खेलकूद क्रिकेट टिपण्णी फैशन लाइफस्टाइल ब्रेकिंग न्यूज़ वायरल ख़बरें वायरल वीडियो विज्ञानं व्यपार शिक्षा तकनीकी होम

कोरोना के साथ जीना पड़ेगा,कोरोना इतनी जल्दी जाने वाला नहीं,संभाल कर रहना पड़ेगा

क्या कोरोना के साथ जीना पड़ेगा,कोरोना इतनी जल्दी जाने वाला नहीं,संभाल कर रहना पड़ेगा,बराबर मास्क लगाना पड़ेगा,घर से बाहर जा रहें है सब जगह हाथ धोना है साबुन या सैनिटाइज़र से,एक दूसरे से दो गज दुरी बनानी है,लेज़र का मास्क ,पीपीई किट नए मटेरियल इलेक्ट्रिक बैटरी लगा बन रही है,इनको वयवहार में लाना है,हेर्ड इम्युनिटी कोई इम्युनिटी नहीं जब ६०% जनता संक्रमित हो जाएगी तब वायरस को कोई असंक्रमित व्यक्ति नहीं मिलेगा तब वो ख़त्म हो जायेगा, अभी हालत चिंताजनक,परन्तु केस पॉजिटिव ज्याद लगभग ८००० मिलाने से घबराएं नहीं, इसमें ८० प्रतिशत साइलेंट या नीना लक्छण के हैं,सिर्फ ३% से कम मौत है,और इसमें सिर्फ ४ से १० % भर्ती होते वाकई घर पर ठीक हो जाये ,हमारी रिकवरी रेट भी अछहि है ३५ से ६५ प्रतिशत इस लिए घबराएं नहीं,मरने वाले ६० से ज्याद उम्र के उसमे भी वे जिन्हे हार्ट,साँस,किडनी,लिवर या शुगर कैंसर की बीमारी हो,इसलिए शांत रहें,टेंशन न लें,सावधानी बरतें कोरोना ठीक हो जायेगा,कोरोना की वैक्सीन शायद दिसंबर तक आएं,अच्छी दवा का निर्माण भी हो रहा, प्रोफेसर डॉ राम के जानेमाने भारत के बहुत प्रसिद्ध चिकित्सक और प्राध्यापक हैं मेडिकल कालेज में MBBS और MD MS की पढाई करने वाले स्टूडेंट्स को पढ़ते हैं और बहुत सरे ब्लॉग और पत्र पत्रिकाओं पर लिखते हैं,इस वीडियो चैनल पर वो आम जनता को तरह तरह के रोगो के बारे में बताएँगे और अभी करोना ने जो जहर फैलाया है उसने सभी लोगो को करोना चिंता फिक्र और मौत से डरा दिया है,पूरी दुनिया सुन्ना होकर करोना घर में बंद हो गयी है करोना वायरस कैसा वायरस है,ये दुनिया में कैसे आया,चीन में इसका पता कैसे चला, इसके लक्छण क्या हैकैसे इसकी जाँच करते हैं करोना वायरस चीन के वहां शहर से DEC 19 में निकल कर पूरी दुनिया में इसने तबाही मचा दी है दुनिया दर रही है पुरे विश्व में 220 देश इससे संक्रमित हो चुके हैं,अभी तक 57 लाख लोग इससे प्रभावित हो चुके हैं और लगभग 350000 मौत हो चुकी है,अमेरिका में सबसे ज्यादा मौते 100000 तक हो गयी वंहा पर 17 लाख लोग प्रभावित हो गए,उसी तरह से इटली,स्पेन,ब्रिटैन,फ्रांस ,जर्मनी में लाखो लोग संक्रमित है और हज़ारो मर गए,भारत में भी प्रे सभी प्रदेश इससे संक्रमित हो गए यंहा पर 155000 लोग प्रभावित हो 4500 मौत हो गयी २३ मार्च से पूरा लॉक डाउन है,स्कूल,कालेज,बाजार,रेल,हवाई यात्रा,बस,टेम्पो कार सभी बंद हैं,सरे लोग घर में बंद है सिर्फ डॉक्टर,नर्स,स्वस्थ्य कर्मी,सफाई कर्मी,पुलिस और आवश्यक खाना पीना सब्जी वालो को छोड़ कर हर आदमी दर रहा है,कब किसके मौत हो जाये ,क्यूंकि इसकी कोई दवा नहीं है,इसका टिका भी नहीं निकला,इसलिए हर आदमी मास्क लगता है,दो गज की दुरी पर रहता,बार बार सेनिटीज़र या साबुन से हाथ धोता है इस से बचने के लिए,ये बहुत खतरनाक बीमारी है क्या होगा किसीको पता नहीं परन्तु हमें हिम्मत नहीं हरनी क्यूंकि इसमें मौत सिर्फ ४ % में होती वो भी बूढ़े और बीमार व्यक्ति में अगर हम घर में रहकर सावधानी बरते तो धीरे धीरे ये ख़तम हो जायेगा,करोना रोग से जुडी सारी जानकारी,क्या ये,कैसे होता,इसके लक्छण,बचने के उपाय,दवा.टिका,कब ख़तम होगा लॉक डाउन कब खुलेगा,करोना वायरस के क्या लक्छण,.बचने क्या करे?,क्या खाये पिए,मास्क कैसे और कौन सा लगाएं?, हाथ को क्यों धोये?,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *