National

देश को कोरोना की हर जानकारी देने वाले ICMR के वैज्ञानिक रमण गंगाखेडकर आज हो जाएंगे रिटायर


वैश्विक महामारी कोरोना की टेस्टिंग से लेकर रिसर्च की हर जानकारी देने वाले संस्थान इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के वरिष्ठ वैज्ञानिक रमण गंगाखेडकर आज रिटायर हो रहे हैं। आईसीएमआर ने इसकी घोषण की है। 

आईसीएमआर के एक अधिकारी ने कहा कि रमण गंगाखेडकर ने COVID-19 महामारी से निपटने में अहम भूमिका निभाई है। रमण गंगाखेडकर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में महामारी विज्ञान और  रोगों के प्रमुख वैज्ञानिक थे। 2020 में उन्हें पद्मश्री से भी सम्मानित किया गया है।

रमण गंगाखेडकर के अलावा स्वास्थ्य मंत्रालय के स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने भी देश को कोरोना की पल-पल की जानकारी देने में अहम भूमिका निभाई थी। 

लव अग्रवाल और रमण गंगाखेडकर के प्रेस कॉन्फ्रेंस का देश को रहता है इंतजार
कोरोना वायरस के गहराते संकट के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल और आईसीएमआर के वैज्ञानिक रमण गंगाखेडकर के प्रेस कॉन्फ्रेंस का पूरे देश को इंतजार रहता है। देश में अब तक कितने लोग कोरोना संक्रमण का शिकार हुए, कितनी मौतें हुईं और सरकार क्या कर रही है, जनता को क्या करना चाहिए… ऐसी हर जानकारी दोनों देश के साथ साझा करते हैं।

आंध्र प्रदेश में शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय में अहम भूमिका निभा रहे लव अग्रवाल की पहचान इनोवेटिव आईएएस अफसर की रही है। उनके साथ काम कर चुके लोग बताते हैं कि टेक्नोलॉजी की मदद से स्वास्थ्य सिस्टम को सुधारने में लव अग्रवाल रुचि लेते हैं। वह ऐसे अफसर हैं, जो स्वास्थ्य क्षेत्र में जागरूकता को बहुत जरूरी मानते हैं। 

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *