Cricket

कोट्स: बुद्धिमान शत्रु अगर अकेला है, तब भी उसे छोटा न समझें; ऐसे दुश्मन जीवनभर दुख देते हैं


  • Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Dharm
  • Motivational Quotes In Hindi, Inspirational Quotes, Anmol Vachan, Quotes For Sharing, Life Management Tips To Share

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

12 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • दैनिक जीवन में जीवन प्रबंधन से जुड़ी बातें ध्यान रखेंगे तो कई परेशानियों से बच सकते हैं

अगर कोई शत्रु बुद्धिमान है तो उसे कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। ऐसे शत्रु अकेले भी खतरनाक होते हैं। समुद्र मंथन की कथा के अनुसार अकेले असुर राहु ने देवताओं के साथ अमृत पान कर लिया था। इसके बाद सूर्य और चंद्र ने उसे पहचान लिया तो उन्होंने भगवान विष्णु को ये बात बता दी। विष्णुजी ने राहु का सिर धड़ से अलग कर दिया। उसने अमृत पी लिया था इस कारण वह मरा नहीं और आज तक वह सूर्य-चंद्र को शत्रु मानता है। आज भी राहु सूर्य-चंद्र को ग्रसित करके दुख देता है। इसीलिए शत्रु को कभी कमजोर न समझें।

यहां जानिए ऐसे ही कुछ और कोट्स…

खबरें और भी हैं…

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *