Cricket

राजस्थान में बोर्ड पैटर्न पर होगी 8वीं की परीक्षा, छठी, 7वीं, 9वीं और 11वीं की परीक्षाओं को लेकर गहलोत सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला


राजस्थान सरकार ने बुधवार को कोरोना संक्रमण की स्थिति को ध्यान में रखते हुए स्कूली परीक्षाओं को लेकर कई अहम फैसले लिए। राज्य के शिक्षा विभाग द्वारा जारी निर्देश के अनुसार छठी और सातवीं कक्षाओं के विद्यार्थियों की परीक्षाएं 15-22 अप्रैल तक स्कूल लेवल पर होंगी। कक्षा 8 की परीक्षा बोर्ड पैटर्न पर आयोजित की जायेगी। जबकि नौवीं से ग्यारहवीं कक्षाओं के विद्यार्थियों की परीक्षाएं 6-22 अप्रैल तक जिला स्तर पर होंगी। कक्षा 11 में प्रैक्टिकल परीक्षाएं 20 अप्रैल से 24 अप्रैल के बीच आयोजित की जाएंगी।

शिक्षा विभाग ने आदेश में कहा, ‘छठी, सातवीं, नौंवी और ग्यारहवीं कक्षाओं का परिणाम 30 अप्रैल को घोषित किया जायेगा एवं बच्चों का आगामी कक्षाओं में प्रवेश एक मई से शुरू होगा। 

8वीं बोर्ड परीक्षा
शिक्षा विभाग ने कहा, ‘कक्षा 8 की परीक्षा पहले की तरह बोर्ड परीक्षा के पैटर्न पर राजस्थान बोर्ड (आरबीएसई) द्वारा तय टाइम टेबल के समानान्तर तिथियों में पंजीयक, शिक्षा विभागीय परीक्षाएं, बीकानेर द्वारा ली जाएगी। पंजीयक द्वारा इसके लिए विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए जाएंगे।’

प्राइवेट परीक्षाओं वाले छात्रों की परीक्षा 20 से 24 अप्रैल के बीच में आयोजित होंगी।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर की ओर से 10वीं 12वीं बोर्ड परीक्षा का आयोजन करवाया जाएगा। 

प्रमोट किए जाएंगे कक्षा 1 से पांचवीं तक के बच्चे
राजस्थान सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए सरकारी स्कूलों में कक्षा एक से पांचवीं तक के बच्चों को प्रमोट करने का फैसला लिया है। इन कक्षाओं में कोई परीक्षा नहीं होगी। इन कक्षाओं के बच्चों को आकलन के आधार पर अगली कक्षा में प्रोन्नत किया जाएगा। कक्षा पहली से पांचवीं तक के विद्यार्थियों को स्‍माइल-1, स्‍माइल-2 एवं ‘आओ घर से सीखें कार्यक्रम’ के तहत किये गये आकलन के आधार पर अगली कक्षा में प्रोन्‍नत किया जायेगा। यह प्रोन्नति एक अप्रैल 2021 को की जाएगी और इसके लिए किसी तरह की परीक्षा नहीं होगी।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *